Facebook Status in Hindi

वक़्त वक़्त की बात है.. जो अंग्रेज हमें गँवार गरीब कहते थे ,.. आज उनकी छोरियां हमारे IPL में नाचने आती हैं!


शायरी सलमान bhai की कलम से.. मुझे तो हिरण ने लूटा.. लड़कियों में कहाँ दम था.. बैरक भी मुझे वो मिला.. जहाँ आशाराम बंद था..


कमियाँ तो बहुत है मुझमे, पर कोई निकाल कर तो देखे.


मेरे दिल को यू कैद ना कर, ए पगली, दिल के नवाब हे, तेरे पिंजरे के पंछी नही.


कुछ ही देर की खामोशी है…. फिर कानों में शोर आएगा…तुम्हारा तो सिर्फ वक्त है…. हमारा दौर आएगा..


ऑनलाइन होकर भी इग्नोर करने की आदत हे ना तेरी, जिस दिन हमने ब्लॉक कर दिया उस दिन, तेरी इग्नोर करने की आदत भी तुझ पर ही भारी पड़ेगी.


कैसे #बताऊँ 🗣की मैं 🙋🏻‍♂तुझे 👆कितना 😍#मिस्स🤔 करता😢 हूँ, #रातो में 🌃जब तेरी👆🏼 #याद 💬आती हे, ना तो #चादरों 🛌में घुस कर😜 #Mobile में📲 तेरी #तस्वीर 🖼देखा 👁करता हूँ…


#Pagli मुझे #Attitude 😎 के बादशाह का खिताब तो तब ही मिल गया था, जब में दो साल की #Age में मुझे लड़की ने #So_cute बोल के #kiss 💋 किया और मैने उसे झापड़ ✋लगा दिया था…..


#कोई_और परेशान 😒 करें तुम्हे 👸 तो उसके #मुंह 🙂 पर #लात 👣 #मार#_देना..😈 और मैं जब #_नज़रे👀 मिलाऊँ 😍 तुमसे 👸 तो तुम #_प्रिया की तरह #आंख##😉 मार देना…


समन्दर में तैरने वाले, कुओं और तालाबों में डुबकियाँ नहीं लगाया करते


डरे हुए लोग अकसर अल्फ़ाज़ों के पीछे छुपते हैं


Attitude तो बचपन से है, जब पैदा हुआ तो डेढ़ साल मैंने किसी से बात नही की ।


भीङ में खङा होना मकसद नहीं हैं मेरा ,बलकि भीङ जिसके लिए खडी है वो बनना है मुझे ॥।


हक़ से दो तो तेरी नफरत भी कुबूल है हमें , खैरात में तो हम तुम्हारी मोहब्बत भी न लें!!!


मेरे मिज़ाज को समझने के लिए, बस इतना ही काफी है, मैं उसका हरगिज़ नहीं होता….. जो हर एक का हो जाये।


दुनिया में आपकी कला से भी ज्यादा चीजों के प्रति आपका नजरिया जरुरी होता हैं।


जैसा भी हूं अच्छा या बुरा अपने लिये हूं, मै खुद को नही देखता औरो की नजर से..!!


हम जैसे सिरफिरे ही इतिहास रचते हैं !समझदार तो केवल इतिहास पढ़ते हैं !!नाम इसलिए उँचा हैं..हमारा… क्योंकि……हम ‘बदला लेने की नही ,’बदलाव लाने, की सोच रखते हैं..


हम वहीँ है जो दूसरों को दर्शाते हैं. इसलिए हमें इसमें सावधानी बरतनी चाहिए॥


शहर भर मेँ एक ही पहचान है ‘हमारी’….सुर्ख आँखे,गुस्सैल चेहरा और ”नवाबी अदायेँ’!


रोज स्टेटस बदलने से जिंन्दगी नहीं बदलती,जिंदगी को बदलने के लिये एक स्टेटस काफी है..!!


इरादे सब मेरे साफ़ होते हैं…….इसीलिए, लोग अक्सर मेरे ख़िलाफ़ होते हैँ…!!!


क्या ओकात है तेरी ए जिन्दगी …चार दिन की मोहब्बत तुझे बरबाद कर देती है..


मैं क्यूँ कुछ सोच कर दिल छोटा करूँ…वो उतनी ही कर सकी वफ़ा जितनी उसकी औकात थी…


हर किसी को मैं खुश रख सकूं वो सलीका मुझे नहीं आता.. जो मैं नहीं हूँ, वो दिखने का तरीका मुझे नहीं आता ।


मिल सके आसानी से , उसकी ख्वाहिश किसे है? ज़िद तो उसकी है … जो मुकद्दर में लिखा ही नहीं…


क्यो ना गुरूर करू मै अपने आप पे….मुझे उसने चाहा जिसके चाहने वाले हजारो थे!


मेरी आँखों के जादु से अभी तुम कहा वाकिफ हो , हम उसे भी जीना सिखा देते हे जिसे मरने का शौक हो ।


तकलीफ कि इन्तेहा तो तब है, जब लोग जिंदा रहे और रिश्ते मर जाये…


जो लम्हा साथ हैं, उसे जी भर के जी लेना, कम्बख्त ये जिंदगी.. भरोसे के काबिल नहीं है.!