Miss You Status in Hindi

Uski hansi mein chuppy dard ko mehsoos to kar Wo to yunhi hans hans ke khud ko saza deta hai


किसे इल्ज़ाम दे अपने जज़्बातो के क़त्ल का… समझदार बनने का शौख तो हमे ही था मिस यू ।


अखबार तो रोज़ आता है घर में, बस अपनों की ख़बर नहीं आती


“शाम की तन्हाई से कोई फ़रियाद कर रहा है, दर्द की गहराई से कोई बात कर रहा है, समझो आप इन फिजाओ की जुबान को आज दिल से कोई आपको याद कर रहा है ।”


“तुझ पर आकर खत्म हो गई सरहदें प्यार की, इसलिये अब शायद किसी और पे प्यार आता नहीं ।”


Itna bhi gumaan na kar apni jeet par ae bekhabar Shahar mein tere jeet se jyada charche to meri haar ke hai


जिस “चाँद” के हजारों हो चाहने वाले दोस्त, वो क्या समझेगा एक सितारे कि कमी को


आँखों में बसी है प्यारी सूरत तेरी; और दिल में बसा है तेरा प्यार; चाहे तू कबूल करे या ना करे; हमें रहेगा तेरा इंतज़ार!


“हमारी कमी का एहसास कीजियेगा फुर्सत मिले तो याद कीजियेगा आदत हो गयी है, आपको याद करने की अगर हिचकी आये तो माफ़ कीजियेगा ।”


“हर बार माँगा खुदा से दोस्तों का प्यार, हर साँस को रहा दोस्तों के आने का इंतजार, भीग गई पलके हमारी तब तब, जब जब दोस्तों से सुना I Miss You यार ।”


“याद करते है, यारों को तो याद से दिल भर आता है, कभी साथ रहा करते थे सब आज सबको साथ देखने को दिल तरस जाता है ।”


“दूरियों की ना परवाह कीजिये दिल जब भी पुकारे बुला लीजिये कहीं दूर नहीं हैं, हम आपसे बस अपनी पलकों को आँखों से मिला लीजिये ।”


उसके लिये दर पे फरियाद करके रोये, उसकी खुशी के लिये उसको छोड दिया फिर, उसे किसी ओर के साथ आबाद करके रोये ।”


Tum khush-kismat ho jo hum tumko chahte hain warna Hum to vo hai jinke khwabon mein bhi log izazat lekar aate hai


टूटे मक़ान वाला, दिल में ताजमहल रखता हूँ, बात गहरी मगर अल्फ़ाज़ सरल रखता हूँ


सुना है आज उस की आँखों मे आसु आ गये, वो बच्चो को सिखा रही थी की मोहब्बत ऐसे लिखते है हमें भी शौक था दरिया -ऐ इश्क में तैरने का, एक शख्स ने ऐसा डुबाया कि अभी तक किनारा न मिला.


कल रात मैंने अपने सारे ग़म, कमरे की दीवार पर लिख डाले, बस फिर हम सोते रहे और दीवारे रोती रही.


Barso ke baad hoti hai mulaqaat, fir bhi rehti hai Dil me Dil ki baat, Nazron se karna padta hai pyar, Par Nazar milane ke liye bhi karna padta hai Intezaar.


Chale Bhi Aao Ki Hum Tumse Pyaar Kartey Hain Ye Wo Gunaah Hai Jo Hum Baar Baar Kartey Hain Log To Maut Tak Taaktey Hain Raah Dildaar Ki
Hum Hain Ki Kabar Mein Bhi Tera Intezaar Karte Hain.


ये भी एक तमाशा है, इश्क और मोहब्बत में दिल किसी का होता है और बस किसी का चलता है.


तुमको बहार समझ कर, जीना चाहता था उम्र भर,भूल गया था की मौसम तो बदल जाते हैं.


उसकी मोहब्बत पे मेरा हक़ तो नहीं लेकिन, दिल करता है के उम्र भर उसकी इंतज़ार करूँ मैं उस किताब का आख़िरी पन्ना था, मैं ना होता तो कहानी ख़त्म न होती.


Alvida Mat Kaho, Darr Lagta Hai Tum Se Bichadne Ka Phir Milenge Kaho, Taki Jee To Sake Hum Gham-e-Intezaar Mein.


“जनाजा उठा है, आज कसमों का मेरी, एक कन्धा तो तेरे वादों का भी बनता है ।”


आँखें भी मेरी पलकों से सवाल करती हैं, हर वक़्त आपको ही याद करती हैं, जब तक ना देख ले मेसेज आपका, तब तक वो आपके मेसेज का इंतज़ार करती हैं